QURBAAN LYRICS - Stebin Ben, Asad Khan

QURBAAN LYRICS – Stebin Ben & Asad Khan

Qurbaan lyrics by Stebin Ben: This latest song is sung by Stebin Ben, written by Asif Khan and music composed by Asad Khan. Starring Avika Gor and Aadil Khan.

Qurbaan Song Details:

Singers: Stebin Ben – Asad Khan
Music: Asad Khan
Lyrics: Asif Khan
Starring: Aadil Khan & Avika Gor
Label: Zee Music Company

Qurbaan – Aadil Khan & Avika Gor | Stebin Ben & Asad Khan | Asif Khan | Zee Music Originals

QURBAAN LYRICS

Jannat sa lagta mujhko ab yeh jahaan hai
Jab se tu tohfa mujhko rabb se mila
Main mohabbat kahun ya ibadat isse
Ab sukoon mere dil ko tujhi se mile

Saanson se teri khushbu si aayi hai
Zulfon ne teri neendein churayi hai
Mujhko banaya aisa deewana
Ke main deta hoon teri hi sada

Main qurbaan, main qurbaan
Teri ik jhalak pe main qurbaan re
Mera kalma mera kalma
Tere naam se shuru hota hai

Main qurbaan, main qurbaan
Teri ik jhalak pe main qurbaan re
Mera kalma mera kalma
Tere naam se shuru hota hai

Banti sanwarti jo badlon mein
Aisi kahani teri meri hai
Aisa mukkamal ishq lage hai
Jaise hai raazi khuda

Main qurbaan main qurban
Teri ik jhalak pe main qurbaan re
Mera kalma mera kalma
Tere naam se shuru hota hai

Main qurban main kurbaan
Teri ik jhalak pe main qurbaan re
Mera kalma mera kalma
Tere naam se shuru hota hai

Teri panahein agar mil gayi toh
Teri ibadat karne lagenge
Tujhko hi maanga har pal dua mein
Ab toh kubool farmaan

Main qurban main kurbaan
Teri ik jhalak pe main qurbaan re
Mera kalma mera kalma
Tere naam se shuru hota hai

Main qurbaan main qurban
Teri ik jhalak pe main qurbaan re
Mera kalma mera kalma
Tere naam se shuru hota hai

Try Apple Music

Qurbaan Lyrics in Hindi

जन्नत सा लगता मुझको अब ये जहाँ है
जब से तू तोहफा मुझको रब से मिला
मैं मोहब्बत कहूँ या इबादत इसे
अब सुकून मेरे दिल को तुझही से मिले
साँसों से तेरी खुशबू सी आयी है
ज़ुल्फ़ों ने तेरी नींदें चुराई है
मुझको बनाया ऐसा दीवाना के
मैं देता हूँ तेरी ही सदा

मैं क़ुर्बान मैं क़ुर्बान
तेरी एक झलक पे मैं क़ुर्बान रे
मेरा कलमा मेरा कलमा
तेरे नाम से शुरू होता है

मैं क़ुर्बान मैं क़ुर्बान
तेरी एक झलक पे मैं क़ुर्बान रे
मेरा कलमा मेरा कलमा
तेरे नाम से शुरू होता है

बनती संवरती जो बादलों में
ऐसी कहानी तेरी मेरी है
ऐसा मुकम्मल इश्क़ लगे है
जैसे है राज़ी खुदा

मैं क़ुर्बान मैं क़ुर्बान
तेरी एक झलक पे मैं क़ुर्बान रे
मेरा कलमा मेरा कलमा
तेरे नाम से शुरू होता है

मैं क़ुर्बान मैं क़ुर्बान
तेरी एक झलक पे मैं क़ुर्बान रे
मेरा कलमा मेरा कलमा
तेरे नाम से शुरू होता है

तेरी पनाहें अगर मिल गयी तो
तेरी इबादत करने लगेंगे
तुझको ही माँगा हर पल दुआ में
अब तो क़ुबूल फरमा

मैं क़ुर्बान मैं क़ुर्बान
तेरी एक झलक पे मैं क़ुर्बान रे
मेरा कलमा मेरा कलमा
तेरे नाम से शुरू होता है

मैं क़ुर्बान मैं क़ुर्बान
तेरी एक झलक पे मैं क़ुर्बान रे
मेरा कलमा मेरा कलमा
तेरे नाम से शुरू होता है