BOL KAFFARA KYA HOGA LYRICS – Neha Kakkar

BOL KAFFARA KYA HOGA LYRICS – Neha Kakkar

Bol Kaffara Kya Hoga Lyrics (बोल कफ़्फारा क्या होगा Lyrics in Hindi): The latest Hindi song is sung by Neha Kakkar and Farhan Sabri, and Bol Kaffara Kya Hoga Song has music by DJ Chetas while Asim Raza and Sameer Anjaan have written the Bol Kaffara Kya Hoga Lyrics.

Bol Kaffara Kya Hoga Song Details:

Singer: Neha Kakkar & Farhan Sabri
Music: Dj Chetas
Music produced by Lijo George
Lyrics for Bol Kaffara: Asim Raza
Lyrics for Dulhe Ka Sehra: Sameer Anjaan
Orignal Composition for Bol Kaffara: Asim Raza & Soach Band
Orignal Composition for Dulhe Ka Sehra: Nadeem – Shravan

Label: Desi Music Factory

BOL KAFFARA KYA HOGA LYRICAL – DJ Chetas , Neha Kakkar , Nusrat FatehAli Khan,Farhan,Lijo | Anshul G:

Bol Kaffara Kya Hoga Lyrics:

Sath Pheron Se Bandha
Janmo Ka Ye Bandhan
Pyar Se Joda Hai Rabb Ne
Preet Ka Daman
Hai Nayi Rasme, Nayi Kasame
Nayi Uljhan
Hont Hai Khamosh
Lekin Keh Rahi Dhakan

Tere naam ke harf ki tasbeeh ko, saanson
Ke gale ka haar kiya, duniya bhooli aur sirf
tujhe haan sirf tujhe hi pyar kiya

Tum jeet gaye hum hare,
Tum jeet gaye hum hare, hum hare aur tum jeete
Mere dil ki dil se tauba, dil se tauba mere Dil ki
Dil ki tauba hai dil ab pyar dobara na hoga

Bol kaffara kaffara
Bol kaffara kaffara
Bol o yaara o yaara
Bol kaffara kya hoga

Humne dhadkan dhadkan karke,
dil tere dil se jod liya
Ankhon ne ankhen padh padh ke,
tujhe vird bana ke yaad kiya

Tujhe pyaar kiya toh tu hi bata, hum ne kya koi jurm kiya
Or jurm kiya hai toh bhi bata, ye jurm ki jurm ki kya hai sazaa

Tumhe hum se badh kar duniya, duniya tumhe humse badhkar
Dil galti kar baitha hai,galti kar baitha hai dil
Haaye dil galti kar baitha tu bol kaffara kya hoga

Bol kaffara kaffara
Bol kaffara kaffara
Bol o yaara o yaara
Bol kaffara kya hoga

Dhadkan meri dhadkan
Dhadkan meri dhadkan
Dhadkan ………

BOL KAFFARA KYA HOGA LYRICS IN HINDI

सात फेरों से बँधा
जन्मों का ये बंधन
प्यार से जोड़ा है रब ने
प्रीत का दामन

Try Apple Music

हैं नयी रस्में
नयी कस्में नयी उलझन
होंठ हैं खामोश
लेकिन कह रही धड़कन

तेरे नाम के हरफ़ की तसबीह को
सासों के गले का हार किया
दुनिया भूली और सिर्फ़ तुझे
हाँ सिर्फ़ तुझे ही प्यार किया

तुम जीत गये हम हारे
हो तुम जीत गये हम हारे
हम हारे और तुम जीते

मेरे दिल की दिल से तौबा
दिल से तौबा मेरे दिल की
दिल की तौबा है दिल
अब प्यार दोबारा ना होगा

बोल कफ़्फारा कफ़्फारा
बोल कफ़्फारा कफ़्फारा
बोल ओह यारा ओह यारा
बोल कफ़्फारा क्या होगा

हमने धड़कन धड़कन करके
दिल तेरे दिल से जोड़ लिया
आँखों ने आँखें पढ़ पढ़ के
तुझे विर्द बना के याद किया

तुझे प्यार किया तो तू ही बता
हमने क्या कोई जुर्म किया
और जुर्म किया है तो भी बता
यह जुर्म के जुर्म की क्या है सज़ा

तुम्हे हमसे बढ़कर दुनिया
दुनिया तुम्हे हमसे बढ़कर
दिल ग़लती कर बैठा है
ग़लती कर बैठा है दिल

दिल ग़लती कर बैठा है
ग़लती कर बैठा है दिल
हाए दिल ग़लती कर बैठा
तू बोल कफ़्फारा क्या होगा

बोल कफ़्फारा, कफ़्फारा
बोल कफ़्फारा, कफ़्फारा
बोल ओह यारा ओह यारा
बोल कफ़्फारा क्या होगा

धड़कन मेरी धड़कन
धड़कन मेरी धड़कन
धड़कन धड़कन धड़कन धड़कन
मेरी धड़कन मेरी धड़कन

दिल ग़लती कर बैठा है
ग़लती कर बैठा है दिल